congress

Bihar election 2020: 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही कांग्रेस, 2 दशक में नहीं जीती उनमें से 45 सीटें

Last Updated on October 18, 2020, 9:25 AM by team

नई दिल्ली. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar election 2020) के लिए रणभूमि तैयार है. हर राजनीतिक दल पुरजोर कोशिश के साथ इस चुनावी मैदान में उतर चुका है. महागठबंधन, एनडीए समेत सभी दल अपने-अपने प्रत्‍याशियों की घोषणा कर चुके हैं. महागठबंधन (Bihar Election 2020) ने भी अपने उम्‍मीदवारों का ऐलान कर दिया है. महागठबंधन में बिहार की 243 सीटों में से 144 सीटें राष्ट्रीय जनता दल (RJD),भाकपा को 6 सीटें, माकपा को 4 सीटें, भाकपा माले को 19 सीटें मिली हैं. महागठबंधन का ही हिस्‍सा कांग्रेस (Congress) को चुनाव लड़ने के लिए 70 सीटें मिली हैं.

कांग्रेस को जो 70 सीटें मिली हैं, उन्‍हें लेकर हालांकि कुछ कांग्रेस और आरजेडी नेताओं में नाराजगी है. इनको मुताबिक यह बंटवारा ठीक तरह से नहीं हुआ है. अगर पिछले चुनावों के नतीजों (Bihar Election 2020) पर नजर डालें तो कांग्रेस इस बार जिन 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, उनमें से 45 सीटों पर पार्टी पिछले 2 दशक यानी 20 साल में नहीं जीत पाई है. इन 70 सीटों में से 12 सीटें या तो बीजेपी या उसके सहयोग दल जेडीयू ने जीती हैं. वहीं 70 में से 18 सीटें कांग्रेस के सहयोगी दल आरजेडी ने भी नहीं जीती हैं.

70 सीटों में से 23 सीटें ऐसी हैं, जिन पर कांग्रेस पिछले विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) में जीत हासिल कर चुकी है. 2015 में जीती गईं 4 सीटें कांग्रेस को अपने सहयोगी दलों को देनी पड़ी. इसके साथ ही दो ऐसी भी सीटें कांग्रेस को इस बार मिलीं जो आरजेडी ने जीती थीं. कांग्रेस के कुछ नेताओं का साफतौर पर मानना है कि इस बार जो सीटें पार्टी को मिली हैं, उनमें से कई ऐसी हैं जहां जीत दर्ज करना मुश्किल हो सकता है. लेकिन उनका दावा है कि पार्टी ने इस बार वहां अच्‍छे उम्‍मीदवार उतारे हैं.

कांग्रेस की ओर से इस बार चुनाव मैदान में उतारे गए चर्चित लोगों में एक्‍टर शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा शामिल हैं. उन्‍हें बांकीपुर से चुनावी टिकट मिला है. वहीं लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव की बेटी सुभाषिनी को भी कांग्रेस ने इस बार टिकट दिया है. उन्‍हें बिहारीगंज से मैदान में उतारा गया है.

कांग्रेस की ओर से जारी की गई उम्‍मीदवारों की सूची में कहलगांव से शुभानंद मुकेश, सुल्तानगंज से लल्लन यादव, अमरपुर से जितेंद्र सिंह, जमालपुर से अजय कुमार सिंह, लखीसराय से अमरीश कुमार, बरबीघा से गजानंद शाही और बाढ़ से सत्येंद्र बहादुर के नाम शामिल है.

इनके अलावा बिक्रम से सिद्धार्थ सौरव, बक्सर से संजय तिवारी, राजपुर से विश्वनाथ राम, चैनपुर से प्रकाश कुमार सिंह, चेनारी से मुरारी प्रसाद गौतम, करगहर से संतोष मिश्रा, कुटुम्बा से राजेश कुमार, औरंगाबाद से आनंद शंकर सिंह, गया टाउन से अखौरी ओंकार नाथ, टिकरी से संतोष कुमार, वजीरगंज से शशिशेखर सिंह, हिसुआ से नीतू कुमारी, वारिसलीगंज से सतीश कुमार और सिकंदरा से सुधीर कुमार को कांग्रेस ने मैदान में उतारा है.

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव तीन चरणों में होंगे. 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर पहले चरण का चुनाव होगा. 3 नवंबर को दूसरे चरण के तहत 94 सीटों पर वोटिंग होगी. अंतिम और तीसरे चरण का मतदान 7 नवंबर को 78 सीटों पर होगा. चुनाव के नतीजे 10 नवंबर को आएंगे.

Please follow and like us:

Leave a Reply