joe biden

Joe Biden: जो बाइडेन को है गलतफहमी, मुंबई नहीं, नागपुर में रहते हैं उनके रिश्‍तेदार

Last Updated on January 26, 2021, 2:00 PM by team

नई दिल्‍ली. जो बाइडेन (Joe Biden) बुधवार को अमेरिका (Unites States President) के 46वें राष्‍ट्रपति (US president Joe Biden) बनने जा रहे हैं. उन्‍होंने इन अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव में डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) को पटखनी दी है. उनके साथ ही भारतीय मूल की अमेरिकी कमला हैरिस (Kamala Harris) अमेरिका की पहली महिला उप राष्‍ट्रपति बनने जा रही हैं. वैसे तो इस बारे में जानकारी पहले से है कि जो बाइडेन की रिश्‍तेदारी भारत में भी है. उन्‍होंने कुछ मौकों पर कहा था, ‘बाइडेन्‍स फ्रॉम मुंबई’ (Bidens From Mumbai) और मेरे पूर्वज शायद एक थे.’

क्‍या मानते हैं जो बाइडेन (Joe Biden)

जो बाइडेन (Joe Biden) के इस कथन का मतलब साफ है कि पूरी दुनिया के साथ ही वह भी यह मानते हैं कि उनके पूर्वजों से संबंधित उनके कुछ रिश्‍तेदार मुंबई में रहते हैं. लेकिन यह बात एकदम गलत है. जो बाइडेन को इस संबंध में गलतफहमी है. दरअसल उनके रिश्‍तेदार मुंबई नहीं बल्कि नागपुर में रहते हैं. अगर ऐसा है तो क्‍यों जो बाइडेन समेत अन्‍य लोग उनके रिश्‍तेदारों का मुंबई में होना मानते हैं? इस सवाल का जवाब हम बताते हैं…

नागपुर में रहते हैं (Joe Biden) के रिश्‍तेदार

टाइम्‍स ऑफ इंडिया में प्रकाशित की एक रिपोर्ट के अनुसार नागपुर में रहने वाली जो बाइडेन (Joe Biden) के वंश की उनकी रिश्‍तेदार सोनिया बाइडेन फ्रांसिस ने कहा है कि वे लोग इस मामले में शांत रहना ही पसंद करते हैं. इसका कारण ये है कि वे लोग नहीं चाहते कि वे मीडिया और दुनिया की चकाचौंध का हिस्‍सा बनें. उनका कहना है कि कई बार तथ्‍यों को गलत तरीके से परोसा जाता है. हम सब लोग वंश के लिहाज से एक हैं.’

यह भी पढ़ें: Covid-19 Vaccine: भारत में टीकाकरण का महाभियान शुरू, यहां जानें सबकुछ

1981 में रिश्‍तदारों को हुई थी जो बाइडेन की जानकारी

सोनिया बाइडेन फ्रांसिस नागपुर के रहने वाले स्‍वर्गीय लेस्‍ली बाइडेन की पड़पोती हैं. वे उनके 14 पड़पोते-पड़पोतियों में से एक हैं. उन्‍होंने जानकारी दी है कि 1981 में लेस्‍ली ने ‘इलस्‍ट्रेटेड वीकली ऑफ इंडिया’ में प्रकाशित एक आर्टिकल देखा था. अमेरिकन एक्‍सप्रेस हेडिंग के इस आर्टिकल को जो बाइडेन ने लिखा था.

चिट्ठी में हुई थी बातचीत

उस आर्टिकल को पढ़ने के बाद लेस्‍ली ने जो बाइडेन को एक चिट्ठी लिखी थी. इसमें उन्‍होंने अपने पारिवारिक रिश्‍तों के बारे में बात की थी. जो बाइडेन (Joe Biden) ने लेस्‍ली की चिट्ठी का रिप्‍लाई दिया था और कहा था कि उन्‍हें खुशी है कि उन्‍हें लेस्‍ली का पत्र प्राप्‍त हुआ. दोनों को इस दौरान आपस में जानकारी हुई कि दोनों के वंशज एक ही हैं. फिर 1983 में लेस्‍ली का अचानक निधन हो गया. इसके बाद उनकी पत्‍नी जेनेवीव ने जो बाइडेन के साथ परिवार का संवाद जारी नहीं रखा.

यह भी पढ़ें: अमेरिका के पास बम की ‘मां’, रूस के पास है ‘बाप’, ये भी जानिये

Joe Biden की गलतफहमी का ये हैं कारण

लेस्‍ली बाइडेन रहते नागपुर में थे. लेकिन जब उन्‍होंने जो बाइडेन को चिट्ठी भेजी थी तो वो बॉम्‍बे (अब मुंबई) से भेजी थी. वह वहां अपनी बेटी एवलिन से मिलने गए थे. उनकी बेटी की शादी दीपक मजूमदार से हुई थी. ऐसे में उनके द्वारा जो बाइडेन को भेजी गई चिट्ठी के लिफाफे में मुंबई जीपीओ का स्‍टांप लगा था. लेकिन चिट्ठी के अंदर नागपुर के पते का जिक्र था. उसी पर जो बाइडेन ने रिप्‍लाई भेजा था. लेकिन चूंकि वो चिट्ठी मुंबई के पते से आई थी, इसलिए जो बाइडेन के मस्तिष्‍क में ‘बाइडेन फ्रॉम मुंबई’ ही बस गया. वह समझने लगे कि उनके रिश्‍तेदार मुंबई में रहते हैं.

कौन थे जो बाइडेन और लेस्‍ली बाइडेन के पूर्वज?

जो बाइडेन और लेस्‍ली बाइडेन के समान पूर्वज का नाम जॉन बाइडेन है. उनकी शादी एने ब्‍यूटमॉन्‍ट से हुई थी. दोनों के आठ बच्‍चे थे. उनमें से एक क्रिस्‍टोफर 1789 में पैदा हुए थे. वह समुद्री जहाज रॉयल जॉर्ज के जरिये भारत आए थे. इसके बाद वह समुद्री जहाज प्रिंसेज ऑफ चार्लोट वेल्‍स के कप्‍तान बने. उन्‍होंने मद्रास (अब चेन्‍नई) में बाइडेन होम फॉर डेस्टिट्यूट सीमेन की स्‍थापना की. 1858 में उनकी मौत हुई. चेन्‍नई में उनका स्‍मारक भी है. क्रिस्‍टोफर के लड़के होरैटियो का सैमुअल नाम का लड़का था. सैमुअल और उनकी पत्‍नी अगस्‍ता 1873 में चेन्‍नई से नागपुर चले गए. वहां उनका लड़का हुआ चार्ल्‍स होराटियो. उनके 2 बेटे थे. एक का नाम लेस्‍ली था और दूसरे का नाम ऑर्थर था. लेस्‍ली की चार बेटी और दो बेटे हुए थे. सोनिया उनके बेटे और बहू चार्ल्‍स बाइडेन व एंजेलिना बाइडेने की बेटी हैं.

Please follow and like us:

Leave a Reply